Valleys in Himachal Pradesh

0
118
valleys of himachal pradesh

हिमाचल प्रदेश अपनी सुंदर घाटियों के लिए प्रसिद्ध है. There are so many valleys in Himachal Pradesh. बल्ह घाटी सब से उपजाऊ तथा कांगड़ा घाटी सब से मनोरम है.

Kangra Valley

कांगड़ा घाटी:- कांगड़ा घाटी शाहपुर से पालमपुर तक फैली है. यहाँ का बीड़ नामक स्थान पैरा-ग्लाइडिंग Paragliding के लिए संसार भर में प्रसिद्ध है. कांगड़ा घाटी को वीर भूमी भी कहा जाता है.

प्रमुख नगर : धर्मशाला, पालमपुर, काँगड़ा, बैजनाथ, नूरपुर.

Sangla Valley

सांगला घाटी या बस्पा घाटी:- सांगला घाटी को बस्पा घाटी भी कहा जाता है. बस्पा सतलुज नदी के किनारे स्थित है. सांगला घाटी का सब से ऊँचा गावं छितकुल है. इसकी समुद्रतल से ऊँचाई 1830 मी. 3475 मी. है. यह लगभग 95 कि. मी. लम्बी है. यह बस्पा नदी के उद्गम स्थल से शुरू होती है.

प्रमुख गाँव:- सांगला, कामरू.

Balh Valley

बल्ह घाटी:- बल्ह घाटी हिमाचल के सब से उपजाऊ घाटी है. यह मंडी जिले के मैदानी भागों में स्थित है. इसे सुंदरनगर घाटी के नाम से भी जाना जाता है. इस घाटी की ऊँचाई (औसत) 800 मी. है.

Chamba Valley

चम्बा घाटी:- चम्बा घाटी को राविघट भी कहा जाता है. चम्बा घाटी के बीचों बीच रावी नदी बहती है. इस घटी में ज्यादातर गद्दी समुदाय के लोग रहते है.

प्रमुख नगर:- चम्बा, खजियार, डलहौजी, भरमौर.

Kullu Valley

कुल्लू घाटी:- कुल्लू घाटी को देवघाटी भी कहते हैं. यह लगभग 75 कि. मी. लम्बी है. यह 2 से 4 कि. मी. चौड़ी है. समुद्रतल से इसकी ऊँचाई लगभग 1200 मी. है. यह फलों के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है. कुल्लू घाटी के सेबों निर्यात कई देशों में किया जाता है. इसमें चीड़ और देवदार के घने जंगल हैं. इस घाटी में गर्म पानी के अनेक चश्मे हैं.

प्रमुख नगर:- कुल्लू, मनाली,नग्गर, बंजार.

Paonta Valley

पौंटा घाटी को कियारदा-दून घाटी के नाम से भी जाना जाता है. यमुना नदी इसे देहरादून से अलग करती है.

प्रमुख नगर:- पौंटा साहिब, माजरा.

Lahaul Spiti Valley

लाहौल स्पीती घाटी:- हिमाचल में सब से ऊँचाई पर लाहौल स्पीती घाटी स्थित है. यहाँ की मुख्य फसल आलू है. इस घाटी की समुद्रतल से ऊँचाई 3000 मी. से 6500 मी. है. इस घाटी में अनेक बौध मठ हैं.

Pabbar Valley

पब्बर घाटी:- यह रोहडू तहसील में स्थित है. पब्बर घाटी को रोहडू घाटी के नाम से भी जाना जाता है. पब्बर इस घाटी की प्रमुख नदी है.

Satluj Valley

सतलुज घाटी:- सतलुज घाटी किन्नौर के शिपकी से बिलासपुर जिले तक फैली हुई है.

प्रमुख नगर:- बिलासपुर, रामपुर.

Bara Bhangal Valley

बड़ा भंगाल घाटी:- यह धौलाधार और पीरपंजाल के मध्य स्थित है. रावी नदी इसी घाटी की ढलान से निकलती है.

Sarsa Valley

सरसा घाटी:- यह घाटी कालका से नालागढ़ तक फैली हुई है. इस घाटी में कई औद्योगिक केन्द्र है. इसे ‘औद्योगिक घाटी’ भी कहा जाता है.

प्रमुख नगर:- परवाणु, बद्दी, नालागढ़.

Swan Valley

स्वां घाटी:- यह ऊना जिले में स्थित है. इसे जस्वां-दून घाटी के नाम से भी जाना जाता है. इस घाटी की चौड़ाई 7 से 14 कि. मी. है.

प्रमुख नगर:- दौलतपुर, गगरेट, अम्ब, ऊना.

Ashwani Valley

अश्वनी घाटी:- यह शिमला के कुफरी से सोलन के गौड़ा तक फ़ैली हुई है.

प्रमुख नगर:- शिमला, चैल, सोलन, कंडाघाट.

Saproon Valley

सपरू घाटी:- यह सोलन जिले में स्थित है. यहाँ टमाटर तथा खुमानी अधिक मात्रा में होते हैं.

Gambhar Valley

गंभर घाटी:- यह सोलन जिला को दो भागों में बाँटती है. अंबुजा सीमेंट प्लांट इसी घाटी में स्थित है.

प्रमुख नगर:- जुब्बलहट्टी, अर्की.

Pangi Valley

पांगी घाटी:- यह चिनाब नदी के किनारे स्थित है. समुद्रतल से इसकी ऊँचाई 18000 से 19000 फीट तक है. पांगी घाटी चरागाह के लिए प्रसिद्ध है.

आपके सुझाव हमारे लिए उपयोगी हैं . अगर आपके पास हिमाचल प्रदेश घाटियों Valleys in Himachal Pradesh के बारे में कोई जानकारी है तो Comment Section में शेयर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here