Shangchul Mahadev पांडवों ने ली थी शरण, प्रेमी जोड़ों की करते हैं सुरक्षा

प्रेम विवाह करने वालों को संरक्षण प्रदान करते हैं शंगचूल महादेव. शांघड़ गाँव के लोग करते है खातिरदारी.

0
297
Shangchul Mahadev
Shangchul Mahadev

Shangchul Mahadev Temple

कुल्लू से 60 कि. मी. दूर है Sainj Valley. इस घाटी के शांघड़ गाँव में है Shangchul Mahadev का मंदिर. यहाँ परम्परा है की किसी को भी तंग न किया जाए. यहाँ ऊँची आवाज तथा शोर डालने की भी मनाही है. गाँव में शराब, सिगरेट इत्यादि प्रतिबंधित है.

प्रेम विवाह करने वालों को दिया जाता है संरक्षण

Shanghar Village में शंगचुल महादेव के आदेश अनुसार काम होता है. देवता के आदेशानुसार यहाँ प्रेम विवाह कर आने वालों को संरक्षण दिया जाता है. एक बार अगर देवता के संरक्षण में आ गये उसके बाद परिवार, समाज तथा पुलिस से शंगचुल महादेव रक्षा करते है. Gandharav Vivaah (गन्धर्व विवाह) करने वालों को गाँव वाले अपने यहाँ ठहराते हैं, तथा उनकी पूरी देखभाल करते हैं.

Shangchul Mahadev के मैदान में खोदने पर भी नहीं मिलेगा एक भी कंकड़-पत्थर

130 बीघा क्षेत्र में फैला है देवता के नाम का मैदान. इस विशाल मैदान में 1 भी कंकड़-पत्थर नहीं मिलेगा.कहा जाता है पांडवों ने धन की खेती के लिए पुरे क्षेत्र की मिट्टी को चान दिया था. इसी कारण यहाँ इस मैदान में 1 भी पत्थर नहीं मिलता. यहाँ तक की खुदाई करने पर भी पत्थर नहीं मिलेगा. यह मैदान हमेशा हरा-भरा रहता है. कितना भी सूखा पद जाये इस मैदान पर कोई असर नहीं दिखता. मैदान की घास न घटती है न बढती है.

History of Shangchul Mahadev is related to Pandvas

कहा जाता है अपने वनवास काल के दौरान पांडव यहाँ आये थे. उन्होंने Shangchul Mahadev के मंदिर में शरण ली. महादेव ने कौरवों को यहाँ आने से रोका और पांडवों को सुरक्षा प्रदान की. तभी से यहाँ आने वालों को महादेव की सुरक्षा मिलती है.

गाँव में कोई भी बिना अनुमति प्रवेश नहीं कर सकता. यहाँ के लोग लड़ाई झगडे से दूर रहते हैं. यहाँ शंगचुल महादेव के नियम चलते हैं. इन नियमों के सूचना बोर्ड भी लगाये गये हैं. नियमों का उलंघन करने वालों पर जुर्माना लगाया जाता है. यहाँ तक की कोई भी पुलिस कर्मी भी टोपी और बेल्ट के साथ मैदान में प्रवेश नहीं कर सकता.

आपके सुझाव हमारे लिए उपयोगी हैं . अगर आपके पास Temples in Himachal Pradesh, Shangchul Mahadev के बारे में कोई जानकारी है तो कृपया Comment Section में शेयर करें. – Samanya Gyan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here